रविवार, 19 अक्तूबर 2014

संप्रेषणः

9. संप्रेषणः 

संप्रेषण संगठन में समन्वय बनाने के लिए प्रत्येक स्तर पर आवश्यक है। संप्रेषण का आशय व्यक्तियों के मध्य विचारों की साझेदारी स्थापित करना है। साथ-साथ काम करने के लिए आपस में सन्देशों का आदान-प्रदान करना एक अनिवार्य आवश्यकता है। नियोजन से लेकर नियंत्रण तक की समस्त कार्यवाहियों के लिए संप्रेषण एक आवश्यक तत्व है। संप्रेषण ही किसी भी कार्य का प्रारंभ करता है और संप्रेषण ही उसे निर्धारित दिशा में चालू भी रखता है। आवश्यकता पड़ने पर सुधारात्मक कार्यवाही भी संप्रेषण की सहायता से ही पूरी हो सकती है।
एक टिप्पणी भेजें