शुक्रवार, 17 अप्रैल 2015

स्मार्ट प्रबंधक बन सफलता की राह

-ःमुस्कराहट सफलता को आमत्रित करती हैः-


फेसबुक पर निम्नलिखित पंक्तियां देखने को मिली आओ आप भी इन पंक्तियों को आत्मसात कीजिए। संसार में कितने ही दुख हों किंतु कोई भी व्यक्ति दुख पसंद तो नहीं करता। संसार में रोना भले ही पड़ता हो किंतु लोग रोना तो नहीं चाहते

मुस्कराते रहो तो दुनिया
आपके कदमों में होगी।
वरना आँसुओं को तो,
आँखें भी पास नहीं रखतीं।

       अतः हमें स्मरण रखना होगा कि तकनीक हमारी मुस्कराहट को या हमारे प्रियजनों की मुस्कराहट को न चुरा ले। हमारी खिलखिलाहट हमारे अच्छे स्वास्थ्य की निशानी तो है ही, अच्छे स्वास्थ्य के लिए आवश्यक भी है। यही नहीं हमारी खिलखिलाहट हमारे प्रियजनों को भी आनन्दित करती है। स्मरण रखें किसी भी तकनीक का प्रयोग तभी तक करें, जब तक वह संबन्धों को घनिष्ठता प्रदान करे। तकनीक आपके संबन्धों में बाधक न बने।  
       हाँ! तकनीक आवश्यक है। तकनीक का प्रयोग अवश्य करें। हाँ यह स्मरण रखें कि तकनीक हमारा उपयोग न करने लगे। आखिर तकनीक हमारे लिए है, हम तकनीक के लिए नहीं। तकनीक जीवन को सुविधाजनक व आनन्दपूर्ण बनाने के लिए है; वह तनाव का कारण न बने इसका ख्याल हमें रखना होगा। इसके लिए उचित व आवश्यक तकनीक के चयन, प्रयोग व प्रबंधन के द्वारा हमें तकनीकी का स्मार्ट प्रयोग करना होगा। तकनीक के उचित प्रयोग से ही हम स्मार्ट प्रबंधक बन सफलता की राह पर निरंतर बढ़ सकेंगे।

एक टिप्पणी भेजें