गुरुवार, 27 दिसंबर 2018

समय प्रबन्धन

हम अपने आप से प्रश्न करें, क्या समय का प्रबंधन संभव है? निःसन्देह इसका एक ही उत्तर आयेगा,  ‘नहीं।’ जी हाँ! यही सत्य है। समय का प्रबंधन कोई नहीं कर सकता। न तो समय का संचय किया जा सकता है और न ही उसे प्रबंधित किया जा सकता है। हाँ, हम अपने पास उपलब्ध समय को या तो बर्बाद कर सकते हैं, जिसे हम टाइम पास करना बोलते हैं या समय का उपयोग करके उसका निवेश कर सकते हैं। निःसन्देह हम समय का प्रबंधन नहीं कर सकते किंतु हम समय के सन्दर्भ में अपनी गतिविधों अर्थात किए जाने वाले कार्यो का प्रबंधन कर सकते हैं। अपने पास उपलब्ध समय की प्रत्येक इकाई अर्थात प्रत्येक क्षण का उपयोग करके और अपने कर्तव्यों को उचित समय का आबंटन करके हम समय के साथ अपने काम काज का प्रबंधन कर सकते हैं। सामान्य जन इसी को समय प्रबंधन अर्थात टाइम मैनेजमेंट कहते हैं।
एक टिप्पणी भेजें